भारत में तो हर चुनाव गाली गलौज, व्यक्तिगत हमलों के बिना पूरा नहीं होता. नतीजतन चुनावी सभाओं में मुद्दे कम गालियाँ ज्यादा उछलती हैं. लेकिन अमेरिका को हम सभ्य समझने की भूल करते रहे हैं, पर हालिया चुनावी कैपेनों से यह गलतफहमी दूर हो गयी है. जिस तरह अमेरिकी राष्ट्रपति पद के शीर्ष दावेदार पत्नियों की नग्न तस्वीरों को चुनावी समर जीतने का हथियार बनाने जैसी हरकतों पर उतर आये हैं. उसे देखकर तो यही लगता है कि इस देश में भी सियासी मर्यादा जैसी कोई चीज नहीं है.

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव को लेकर राजनीति का गंदा खेल शुरू हो गया है. डोनाल्ड ट्रंप मुस्लिम विरोधी बयानों के लिए पहले से ही चर्चित हैं. लेकिन अब चुनावी प्रतिस्पर्धा ने नंगई भरा मोड़ ले लिया है. रिपब्लिकन पार्टी में उम्मीदवारी हासिल करने की रेस में आगे चल रहे दोनों उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप और टेड क्रूज सोशल मीडिया में भिड गए हैं. और आधार बनी है ट्रंप की पत्नी की न्यूड पिक्स.

दरअसल ट्रम्प की पत्नी मेलेनिया नॉस ट्रंप ने साल 2000 जीक्यू फोटोशूट के लिए न्यूड पोज दिया था. इस तस्वीर को ट्रंप विरोधियों ने वायरल कर यह कहकर कटाक्ष किया कि मिलिए मेलेनिया ट्रंप से, आपकी फर्स्ट लेडी. ऐसे में आप टेड क्रूज का समर्थन कर सकते हैं. अब ऐसे में जब टेड क्रूज के समर्थकों ने डोनल्‍ड ट्रंप की पत्‍नी मेलेनिया की अश्‍लील फोटो का इस्‍तेमाल चुनाव कैंपेन में किया है, तो ट्रामो कहाँ चुप रहने वाले थे.

वह भी भड़क गए और सरेआम ट्विटर पर क्रूज की पत्नी की तस्वीर साझा करते हुए धमकाया कि टेड, सावधान रहो, नहीं तो मैं तुम्हारी पत्नी की सारी गोपनीय बातें सार्वजनिक कर दूंगा. जवाब में क्रूज और उनकी पत्नी ने ट्रंप को भी आड़े हाथों लिया. गौरतलब है कि क्रूज की पत्नी गोल्डमैन सेक्स की एक्जीक्यूटिव हैं. इस तरह तमाम सियासी सीमाएं लाँघ कर चुनावी बहस आर्थिक, सामाजिक और आतंकवाद जैसे मसलों से हटकर नग्न तस्वीरों पर आकर अटक गयी. इसे पहले भी चुनावी माहौल में ट्रंप और उनकी बेटी की एक ग्लैमरस तस्वीर पर विवाद हुआ था.

दुनिया के इतने बड़े लोकतंत्र और विश्वशक्ति के तौर पर स्थापित इस मुल्क में राजनीतिक बयानबाजी इतनी अभद्र कभी नहीं हुई. जो पर्सनली एकदूसरे की पत्नियों की न्यूड पिक्स या चरित्र पर कीचड़ उठाकर चुनाव जीतने का इरादा रखते हैं वो अमेरिका की बागडोर संभालने लायक हैं या नहीं, ये तो वहां की जनता फैसला लेगी. लेकिन इससे अमेरिका की दुनिया भर में छवि जरूर धूमिल हो रही है.

एक्स्ट्रा शॉट: बिहार चुनाव के दौरान जब रामविलास पासवान के बेटे चिराग पासवान ने लालू यादव के बेटों पर हमला किया था, तो उसके जवाब में तेजस्वी ने कहा कि चिराग पासवान बताएं के चुनावी हलफनामे में उनके पिता रामविलास पासवान ने किस पत्नी का नाम लिख रखा है.

COMMENT