लेखक- रामविलास जांगिड़

कर्ज ले कर महंगी शादी करना बहुत भारी समझदारी है. चमकदार बड़ेबड़े टैंट और एक दिन के लिए बरात में ढेरों गाडि़यां लहराना गजब का साहस है. डीजे, ढोल, बैंड, ताशा आदि बजाने से ही आती है असली बरबादी... नहींनहीं, शादी का मजा. शादी वाले एक दिन शेरवानी, ताज और बैंडबाजे के साथ घोड़ी पर बैठ कर नकली राजा बनने के लिए बाद के कई बरसों तक खच्चर बन कर काम करते रहना कोई बुरा सौदा नहीं है, श्रीमान.

Digital Plans
Print + Digital Plans
Tags:
COMMENT