‘‘आप कहीं जा रहे हैं?’’ पति को जाते देख कर मैं ने पूछा. ‘‘तुम खाना लगाओ, मैं बस 2 मिनट में आता हूं,’’ कह कर पतिदेव जो निकले तो घंटे भर के लिए लापता हो गए. उन की इस आदत से मैं वाकिफ हूं फिर भी पतिदेव की हुक्मउदूली नहीं  कर सकती. खाना मेज पर रखेरखे ठंडा हो गया. अपनी आदत के अनुसार वह घंटे भर बाद वापस आए. चाहे कितना कुछ कहूं पर चिकने घड़े की तरह उन पर कुछ असर ही नहीं होता है.

Tags:
COMMENT