आज लोगों में डायबिटीज की समस्या बेहद आम है. देश की एक बड़ी आबादी है जो इस परेशानी से जूझ रही है. डायबिटीज के मरीजों को कई तरह की परेशानियों से जूझना पड़ता है. उन्हें अपनी डाइट, ब्लड शुगर और वजन जैसी जरूरी चीजों का खासा ध्यान रखना पड़ता है. इन चीजों में हल्की सी भी लापरवाही जान पर बन आती है. पर क्या आपको पता है कि डायबिटीज के मरीजों में त्वचा की बीमारी के खतरे अधिक होते हैं. उन्हें त्वचा संबंधित बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है.

इस खबर में हम आपको बताएंगे कि डायबिटीज के मरीजों को किस तरह की त्वचा संबंधित बीमारियां हो सकती हैं.

डायबेटिक डर्मोपैथी

इस बीमारी में त्वचा पर गोल और ओवल आकार के निशान पड़ जाते हैं. आमतौर पर ये बीमारी पैर के ऊपरी हिस्से पर होती है.

ये भी पढ़ें- ऐसे कहे थायराइड को अलविदा

स्किन इंफेक्शन

डायबिटीज के मरीजों में स्किन इंफेक्शन का खतरा अधिक रहता है. इस लिए जरूरी है कि वो इस बात को लेकर सजग रहें.

डायबेटिक ब्लिस्टर

डायबिटीज की बीमारी से जूझ रहे लोगों में ये बीमारी देखी जाती है. इस बीमारी में लोगों को कई जगहों पर छाले हो जाते हैं. डायबिटीज के मरीजों की स्किन पर होने वाले छाले काफी बड़े होते हैं और इन छालों में ना खुजली होती है और ना ये लाल पड़ते हैं.

ये भी पढ़ें- अगर आप भी हाई ब्लड प्रेशर के मरीज हैं तो पढ़ें ये खबर

अकन्थोसिस निगरिकन्स (Acanthosis Nigricans)

त्वचा से जुड़ी ये बीमारी आम तौर पर मोटापा से पीड़ित लोगों में होती है. इसमें गर्दन, कोहनी पैर की त्वचा गहरे भूरे रंग में बदल जाती है. इन परेशानियों से निजात पाने के लिए वजन कम करना बेहद जरूरी है. इसके अलावा बाजार में बहुत से ऐसे क्रीम मिलते हैं जिनके प्रयोग से आप इस परेशानी से निजात पा सकते हैं.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT