गरमी के मौसम में शरीर से टपकता पसीना परेशानी का सबब बन जाता है. यदि महिलाओं की बात की जाए तो उन्हें इस परेशानी से अधिक जूझना पड़ता है. इस की बड़ी वजह उन के इनरवियर्स होते हैं. जहां बौडी सपोर्ट के लिए इनरवियर्स जरूरी होते हैं वहीं फैशन के लिहाज से भी महिलाओं का अंडरगार्मैंट्स पहनना जरूरी होता है.

मगर गरमियों के मौसम में इनरवियर का कसाव त्वचा संबंधी रोग जैसे घमौरियां, रैशेज आदि उत्पन्न कर देता है. इन से बचने के लिए जरूरी है कि इस मौसम के लिए सही इनरवियर का चुनाव किया जाए. आइए, जानते हैं इस मौसम के लिए महिलाएं किस तरह के इनरवियर का चुनाव करें:

सही फैब्रिक का चुनाव: गरमी के मौसम में अंडरगार्मैंट्स के लिए सही फैब्रिक का चुनाव बेहद जरूरी है. कई महिलाएं जो इनरवियर सर्दियों में पहनती हैं वही गरमी के मौसम में भी पहनती हैं, जबकि दोनों मौसम में अलगअलग फैब्रिक के इनरवियर पहनने चाहिए. यदि सर्दी के मौसम में पहने जाने वाले नायलोन या सिंथैटिक फैब्रिक के इनरवियर्स को गरमी के मौसम में पहना जाए तो शरीर से अधिक पसीना निकलता है, जिस से घमौरियां होने का डर रहता है. इस मौसम में कौटन, लाइक्रा या नैट के अंडरगार्मैंट्स पहनने से त्वचा को भरपूर औक्सीजन मिलती रहती है.

पैडेड इनरवियर पहनने से बचें: आजकल महिलाओं में पैडेड इनरवियर का क्रेज बखूबी देखा जा सकता है, मगर यह गरमी के मौसम के लिहाज से त्वचा की सेहत के लिए बिलकुल सही नहीं होते. यदि पैडेड अंडरगार्मैंट पहनना भी पड़े, तो केवल कौटन से बना ही पहने.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
COMMENT