आज जिस तरह की भागमभाग संस्कृति वाली जीवनशैली विकसित हो रही है उस से मानव मशीन की तरह काम करने लगा है. प्रकृति से नाता टूटता जा रहा है. प्रकृति से दूर रहने का खमियाजा भी लोग भुगत रहे हैं. शारीरिक रुग्णता आज आम बात हो गई है. इस का प्रभाव मानसिक विकास को अवरुद्ध करता है. इस से दिमागी शक्ति कमजोर होती है. इस कमजोर हुई दिमागी शक्ति को फिर से प्राप्त करने के लिए की जाने वाली कसरत का नाम है- न्यूरोबिक ऐक्सरसाइज.

Tags:
COMMENT