दुनिया के महान मुक्केबाज मुहम्मद क्ले अली अब हमारे बीच नहीं रहे. चाहे वियतनाम युद्ध के खिलाफ उन की मुहिम हो या फिर नस्लभेद के खिलाफ लड़ाई, लोगों से जुड़े हर मसले को उठाने में वे आगे रहते थे. यही कारण था कि 3 दशकों तक उन्होंने लोगों को अपना मुरीद बनाए रखा.  मुहम्मद अली का असली नाम कैसियस क्ले था. जब उन का जन्म हुआ तो अमेरिका में नस्लभेद अपने चरम पर था. इस समस्या से परेशान हो कर उन्होंने इसलाम धर्म कबूल कर लिया और बाद में कट्टरपंथियों ने उन का जीना हराम कर दिया. उन का जीवन कम कष्टदायक नहीं रहा. माना जाता है कि एक बार लुई विला के बाजार में उन्हें प्यास लगी तो एक दुकानदार से पानी मांगा. दुकानदार श्वेत था, इसलिए पानी देने से मना कर दिया. अली को इस से गहरा धक्का लगा. यह बात उन के मन में घर कर गई.

COMMENT