बदलते मौसमों में एक ही सब्जी लगातार मिल पाना मुश्किल है. किसी खास मौसम में कुछ सब्जियां इतनी ज्यादा पैदा हो जाती हैं कि उन के सही दाम तक मिलने मुश्किल हो जाते हैं. मजबूरी में किसानों को अपनी उपज औनेपौने दामों में बेचने को मजबूर होना पड़ता है. आंकड़ों की मानें तो देश में कुल सब्जी उत्पादन का 20 से 30 फीसदी हिस्सा तोड़ाई के बाद सही प्रबंधन न होने के कारण बेकार हो जाता है. इस से सालाना तकरीबन 20 खरब रुपए का नुकसान होता है. सब्जियों की तोड़ाई के बाद प्रबंधन कर के सब्जियों की मांग और आपूर्ति पर नियंत्रण किया जा सकता है और सब्जियों को खराब होने से बचाया जा सकता है.

Tags:
COMMENT