लेखक- डा. बीएस मीणा, मोहन लाल जाट, डा. बच्चू सिंह, मुकेश चौधरी एवं रूप सिंह

गरमी का मौसम शुरू होने के चलते लगातार तापमान बढ़ रहा है. इस हालत में पशुओं को गरमी से बचाने के लिए पर्याप्त मात्रा में संतुलित भोजन की जरूरत होती है. गरमी से बचाव के लिए गायभैंस का खास ध्यान रखने की जरूरत है. गरमियों में पशुओं काआवास प्रबंधन भीतरी व बाहरी परजीवियों से बचाव के लिए कृमिनाशक दवा का प्रयोग करें. पशुओं को खुरपका, मुंहपका, गलघोंटू और लंगड़ी ज्वर से बचाव के लिए टीका लगवाएं. पशुओं में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए विटामिन बी और सैलेनियम सप्लीमैंट दें. पशु बीमार हो तो सेहतमंद पशु से तुरंत अलग कर देखरेख करें.

Tags:
COMMENT