धान कटाई यंत्र

बीसीएस आटोमैटिड रीपर (स्वचालित) : यह रीपर यंत्र फसल की कटाई करने के साथसाथ उस के बंडल भी बनाता है. इस यंत्र के इस्तेमाल से मजदूरों की काफी बचत हो जाती है. इस रीपर यंत्र से धान, सोयाबीन, धनिया, हरा चारा वगैरह भी काट सकते हैं.

इस यंत्र में 10 हौर्सपावर का इंजन लगा होता है. यह मशीन एक घंटे में तकरीबन एक एकड़ फसल को काट कर उस के बंडल भी साथसाथ बांध देती?है. इतने काम में ईंधन खपत एक लिटर प्रति एकड़ होती है.

इस मशीन को चलाना बेहद आसान है. इस पर एक ही आदमी बैठ कर आराम से फसल काट सकता है. इस में कुल 5 गियर होते हैं जिस में 4 गियर आगे और एक गियर पीछे के लिए लगा होता है.

इस के अलावा बीसीएस कंपनी का ट्रैक्टरचालित रीपर बाइंडर भी आता है. इस की कुछ अधिक कीमत है. ये यंत्र सभी छोटेबड़े शहरों में मिल सकते?हैं.

ज्यादा जानकारी के लिए आप बीसीएस कृषि यंत्र निर्माता कंपनी के मोबाइल नंबर 09872874743/09872874745 पर बात कर सकते हैं.

कामको पावर रीपर : इस के 2 मौडल हैं. पहला मौडल केआर 120 एच है. इस की अनुमानित कीमत 1 लाख, 15 हजार है और दूसरा मौडल केआर 120 एम?है, जिस की अनुमानित कीमत 1 लाख, 10 हजार है. इन्हें पैट्रोल व डीजल दोनों से चलाया जा सकता है. पैट्रोल से ईंधन की खपत 800 मिलीलिटर प्रति घंटा है, वहीं डीजल से चलाने पर ईंधन की खपत अधिक होती है. यह 2 घंटे में एक एकड़ फसल की कटाई करता है. यह जमीन से 5 सैंटीमीटर से 25 सैंटीमीटर की ऊंचाई तक यानी 1.2 मीटर की चौड़ाई में फसल की कटाई करता है.

अशोका रीपर बाइंडर : इस यंत्र को 35 हौर्सपावर से 40 हौर्सपावर के ट्रैक्टर के साथ आसानी से जोड़ कर चलाया जाता है और 3 घंटे में एक हेक्टेयर फसल की कटाई के साथसाथ बंधाई भी करता है.

इस यंत्र में हाइड्रोलिक सिस्टम होने के कारण इस यंत्र को अपनी सुविधानुसार ऊपरनीचे किया जा सकता है. मशीन को ट्रैक्टर के साथ जोड़ने के बाद कटाई करते समय 5 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार तक चलाया जा सकता है.

ज्यादा जानकारी के लिए आप कंपनी के मोबाइल नंबर 09412636370 पर जानकारी ली जा सकती है.

ये भी पढ़ें- रोटावेटर खास जुताई यंत्र : मिल रही सरकारी मदद

भारत रीपर : भारत इंडस्ट्रियल कोऔपरेशन का भारत रीपर, जिन का फोन नंबर 0136-224075, मोबाइल नंबर 9814069075 पर बात कर के आप अधिक जानकारी ले सकते हैं.

सरदार रीपर : अनेक फसलों की कटाई करने वाला इन का मल्टीक्रौप सुपर डीलक्स मौडल 841 है. ज्यादा जानकारी के लिए आप मोबाइल नंबर 9814447143 पर बात कर सकते हैं.

इन कृषि यंत्र निर्माताओं के अलावा अनेक लोग ऐसे यंत्र बना रहे हैं, जिन में गुरु पावर रीपर, किसान क्राफ्ट, लोहन पावर रीपर वगैरह हैं. आप अपने नजदीकी कृषि यंत्र विक्रेता या नजदीकी कृषि विज्ञान केंद्र से भी रीपर से जुड़ी जानकारी ले सकते हैं.

धान थ्रेशर

गिल एग्रो का मल्टी क्रौप थ्रेशर : कृषि यंत्र निर्माता खेती में काम आने वाले अनेक यंत्रों को बनाते हैं. पंजाब, हरियाणा में इन की मशीनें काफी पसंद की जाती हैं.

मल्टी क्रौप थ्रेशर का जंबो मौडल है जो मजबूत प्लेटफार्म के साथ जुड़ा यंत्र?है. इस थ्रेशर से अनेक फसलों का अनाज निकाला जा सकता?है. पंजाब के मलौट में स्थित गिल एग्रो के फोन नंबर 91-1637-263352 या मोबाइल नंबर 9417066252 और 9317100008 पर बात कर के ज्यादा जानकारी ले सकते हैं.

अमर मल्टी क्रौप थ्रेशर : यह यंत्र 3 अलगअलग मौडलों में है. इस यंत्र की तमाम खूबियां हैं.

अमर मल्टी क्रौप थ्रेशर (इंजन मौडल) : इस थ्रेशर में 10 हौर्सपावर का डीजल इंजन थ्रेशर यंत्र के साथ ही जुड़ा होता है. अलग से ट्रैक्टर को अन्य शक्ति स्रोत की जरूरत नहीं होती है. इस थ्रेशर से एक घंटे में 7 से 10 क्विंटल तक अनाज निकाला जा सकता है. इस यंत्र का वजन तकरीबन 750 किलोग्राम है.

अमर मक्का मल्टी क्रौप थ्रेशर (ट्रैक्टर मौडल) : इस मल्टी क्रौप थ्रेशर से मक्का, ज्वार, बाजरा, सोयाबीन, जई, गेहूं, धान वगैरह की आसानी से ओसाई की जा सकती है. इसे 35 हौर्सपावर या इस से अधिक हौर्सपावर के ट्रैक्टर के साथ चलाया जाता है. यह यंत्र टायरयुक्त मजबूत प्लेटफार्म पर लगा है. इसे एक जगह से दूसरी जगह लाना व ले जाना आसान है. इस यंत्र का वजन तकरीबन 1,200 किलोग्राम है.

अमर मल्टी क्रौप थ्रेशर (बिजली मोटर/पावर टिलर से चलने वाला) : इस यंत्र से?भी अनेक फसलों की ओसाई की जाती है. गेहूं 3 से 4 क्विंटल प्रति घंटे के हिसाब से निकलता है. इस थ्रेशर को चलाने के लिए बाहरी शक्ति की जरूरत पड़ती है जिस के लिए 8 एचपी इंजन या इलैक्ट्रिक मोटर की जरूरत होती है.

ये भी पढ़ें- सरसों की फसल: समय पर बोआई भरपूर कमाई

योद्धा मल्टी क्रौप थ्रेशर : सायको एग्रोटैक का योद्धा मल्टी क्रौप थ्रेशर अंतर्राष्ट्रीय मान्यता के साथ नई डिजाइन व तकनीक द्वारा बनाए जाते हैं. योद्धा मल्टी क्रौप थ्रेशर मोटर, इंजन, ट्रैक्टर और हडंबा कटर मौडल में मौजूद हैं. ये मल्टी क्रौप थ्रेशर किसी भी ट्रैक्टर के साथ जोड़ कर चलाए जा सकते हैं.

योद्धा मल्टी क्रौप थ्रेशर के सभी पुरजे आसानी से बदले जा सकते हैं और हर जगह आसानी से मिल जाते हैं. इस मल्टी क्रौप थ्रेशर से गेहूं, ज्वार, बाजरा, सोयाबीन, मटर, चना, सूरजमुखी, सरसों, तिलहन और दालों की गहाई आसानी से की जाती है.

Tags:
COMMENT