इन दिनों लंबी मातृत्वकालीन छुट्टी की बड़ी चर्चा है. लेकिन कुछ तो ऐसी मांएं भी हैं जिन का खुद अपना बच्चा नहीं है, किसी नवजात बच्चे को गोद लिया है. वे मांएं भी लंबे समय से मातृत्वकालीन छुट्टी की मांग कर रही थीं. मातृत्व लाभ कानून 1961 में संशोधन के बाद सरकार ने एक निर्देशिका भी जारी की है कि जिस में दत्तक अवकाश दिए जाने की बात कही गई है. संशोधन के बाद सरोगेट मां यानी किराए पर कोख देने वाली मांओं के लिए भी मातृत्वकालीन अवकाश का प्रावधान किया गया था. इसी साल जनवरी में केंद्र सरकार की ओर से किसी बच्चे को गोद लेने वाली महिलाओं को भी मातृत्वकालीन अवकाश दिए जाने पर विचार की बात कही गई थी.

COMMENT