एक किराने की दुकान में काम करने वाला पी. राजगोपाल ने सपने में भी नहीं सोचा होगा कि एक दिन वह करोड़पति बन जाएगा और उस की कंपनी 21 देशों में कारोबार करने लगेगी. इसका श्रेय वह एक ज्योतिषी को देता है. मगर यही ज्योतिषी एक दिन उस के लिए काल भी बन जाएगा, यह भी उस ने नहीं सोचा होगा.

Tags:
COMMENT