हकीकत क्या थी, यह तो नहीं कहा जा सकता. लेकिन यह सच है कि कुछ लोग मौका मिलने पर भी नहीं सुधरना चाहते. शीला भी सुधर सकती थी अगर दिनेश थोड़ी कोशिश करता. लेकिन उस ने...  छत्तीसगढ़ का औद्योगिक नगर कोरबा एशिया के नक्शे में अपनी कोयला खदानों, सार्वजनिक
क्षेत्र के एल्युमिनियम कारखाने, एनटीपीसी के विद्युत प्लांट के कारण अहम स्थान रखता है. 30 वर्षीय खूबसूरत शीला अपने दूसरे पति दिनेश कंवर और बच्चे के साथ कोरबा के उपनगर कटघोरा में किराए के मकान में रहती थी.
15 नवंबर, 2019 की शाम शीला के मोबाइल पर पति दिनेश कंवर की काल आई. दिनेश ने घबराए स्वर में कहा, ‘‘शीला, तुम कहां हो? बहुत बुरी खबर है.’’
पति की बात सुन कर शीला घबरा गई. वह बोली, ‘‘मैं कटघोरा बसस्टैंड पर हूं. क्या हो गया, जो इतना घबराए हुए हो?’’
‘‘शीला, तुम कहीं मत जाना, मैं आ रहा हूं. नरेश चाचा के लड़के का एक्सीडेंट हो गया है. हमें उन के यहां जाना है.’’ दिनेश ने कहा.

ये भी पढ़ें-Crime Story: रिश्तों में सेंध
पति की बातें सुन कर शीला कंवर चिंतित हो उठी. वह घर से कोरबा जाने के लिए निकली थी, मगर पति की बातें सुन उस ने अपना इरादा बदल दिया. उस समय शीला के साथ उस की फ्रैंड धनश्री और मीना भी थीं. उस ने दोनों को बताया कि अचानक घर में जरूरी काम आ गया है, इसलिए वह कोरबा नहीं जा पाएगी. वे दोनों चली जाएं.
इस पर धनश्री ने तुनक कर कहा, ‘‘ये क्या बात हुई, छोटी सी बात पर तुम कोरबा जाने का प्रोग्राम कैंसिल कर रही हो. इस से तो पूरा खेल बिगड़ जाएगा.’’
‘‘अरे यार, तुम जानती नहीं हो. दिनेश आजकल छोटीछोटी बातों पर उखड़ जाता है. बातबात में मुझ पर शक करता है. अगर मैं घर नहीं गई तो वह फिर झगड़ा करेगा.’’ शीला ने दोनों फ्रैंड्स को समझाते हुए कहा. इस पर धनश्री बोली, ‘‘अरे यार, ज्यादा भाव खा रहा है तो छोड़ दे इसे भी.’’

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT