समाज में ऐसी औरतों और ऐसे पुरुषों की कमी नहीं है, जो जीवनसाथी को खिलौना समझ बैठते हैं. हालांकि वक्त आने पर उन्हें इस की सजा भी जरूर मिलती है. तृप्ति ऐसी ही औरत थी जो पहले पति से खेलती रही और फिर उसे कैंसर रोगी साबित कर के...

घटना 13 नवंबर, 2018 की है. तृप्ति जय तेलवानी जिस समय अपने 3 साल के बेटे के साथ पुणे शहर के थाना चिखली पहुंची, उस वक्त दोपहर का एक बजने वाला था. महिला एसआई रत्ना सावंत उस समय किसी पुराने मामले की फाइल देख रही थीं. घबराई और रोती हुई तृप्ति जब उन के पास पहुंची तो वह समझ गई कि इस के साथ जरूर कुछ गलत हुआ है.

Tags:
COMMENT