सोशल मीडिया का फेसबुक एक तरफ जहां दोस्ती का, संबंधों का एक नया संसार प्रदान करता है, वहीं यह फेसबुक ठगी, लूट और दैहिक शोषण का माध्यम भी बनता जा रहा है. फेसबुक के माध्यम से जाने कितनी नादान लड़कियां  अपनी अस्मत लुटा कर यह आगाह कर रही हैं कि अब तो जाग जाओ- जी हां यह सच है कि फेसबुक आज ठगी और शोषण का माध्यम बनता जा रहा है. इस तरह की घटनायें  छत्तीसगढ़ के  बिलासपुर, दुर्ग, मुंगेली से आई है .यहां फेसबुक के माध्यम से प्यार फिर धोखे के तीन  मामले सामने आये हैं.

वही दुर्ग में 44 लाख की ठगी का मामला चर्चा में रहा है. सवाल सीधा सा है कि समझना होगा कि फेसबुक का उपयोग किस एहतियात के साथ किया जाना चाहिए. अगरचे आप फेसबुक की मायावी दुनिया को सच मान लेंगे तो आपका लूटना तय है.क्योंकि यह फेसबुक की दुनिया हमारे आसपास के लोगों से ही बुनी गई है. जिस तरह का क्राइम पूर्व में बिना फेसबुक के हुआ करता था अब फेसबुक के माध्यम से यह कई गुना बढ़ कर लोगों को पीड़ा और त्रासदी दे रहा है.

ये भी पढ़ें- पूजापाठ नहीं मेहनत से पैसे कमाए

महिलाएं बन रही शिकार

फेसबुक की मायावी दुनिया में लड़कियां,  महिलाएं सहजता से बहकावे में आ जा रही है.ऐसे अनेक उदाहरण हमारे आस-पास घटित हो चुके हैं. समझदारी का तकाजा तो यह है कि हम फेसबुक का इस्तेमाल बहुत सोच समझकर करें और इसमें मित्रता की एक सीमा देखा रखें अगर हमने मित्रता को आंख बंद करके स्वीकार किया तो हमारा किसी न किसी तरीके से बेवकूफ बन जाना दैहिक शोषण का शिकार हो जाना आर्थिक रूप से ठगी का शिकार होना संभव है आई आपको कुछ घटनाओं से रूबरू कराते हैं-

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT