कोरोना के लगातार बढ़ते केसेस कई गंभीर सवाल पैदा कर रहे हैं जिन में एक बड़ा सवाल वेंटिलेटर्स का है. वर्ल्ड हैल्थ और्गनाइजेशन के अनुसार, कोविड-19 के 7 में से 1 रोगी को अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत है, वहीं 5 फीसदी लोगों को वेंटीलेशन पर रख अत्यधिक देखभाल की आवश्यकता है. वेंटिलेटर वह मशीन होती है जिस से मरीज को सांस लेने में मदद मिलती है. जब व्यक्ति के फेफड़ों में फ्लुइड जमा हो जाते हैं और वह सांस नहीं ले पाता है. फेफड़ों के कमजोर होने या लंग फेलियर की स्थिति में यह मशीन लाइफ सेवर साबित होती है जो फेफड़ों को रक्त औक्सिजनेट करने में मदद करता है.

Tags:
COMMENT