मोदी शक्ति

लेख ‘समस्याओं के अंबार पर मोदी सरकार’ पढ़ कर दिल इसलिए बागबाग हो गया कि चुनाव से पहले जो लोग नरेंद्र मोदी को रातदिन पानी पीपी कर कोसने से नहीं अघाते थे, वे लोग और संस्थान अब उन की तारीफ करते नजर आ रहे हैं. इस लेख में जो कुछ पढ़ने को मिला, उसे पढ़ कर पाठकों की आंखें खुल गई होंगी कि आखिर नमो का विरोध कितना गलत और कितना सही था.

खैर, कहावत भी तो है कि ‘सोना तप कर ही कुंदन बनता है’, ठीक उसी तरह के विरोधों का डट कर मुकाबला कर, विजयश्री को अपने माथे पर लगा कर, नमो ने अपना जो स्वरूप प्रस्तुत किया है उस की प्रशंसा न केवल भाजपा या समर्थक दलों में हो रही है बल्कि अन्य कई विरोधी दलों में भी प्रशस्ति गान की झलक स्पष्ट नजर आ रही है.

आश्चर्य का विषय तो यह है कि कल तक जहां विदेशी सरकारों के नमो की काट पर संघर्ष चल रहा था है वह अब न केवल ठंडा पड़ गया है बल्कि नमो के स्वागत में ‘रैड कारपेट’ बिछाने की पहल में बदल गया है.

ताराचंद देव रैगर, श्रीनिवासपुरी (न.दि.)

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

सरिता डिजिटल

डिजिटल प्लान

USD4USD2
1 महीना (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

डिजिटल प्लान

USD48USD10
12 महीने (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

प्रिंट + डिजिटल प्लान

USD100USD79
12 महीने (24 प्रिंट मैगजीन+डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...