इस अवसर पर निर्माता मौसमी बिश्वास ने कहा- ‘‘मैं इस फिल्म को लेकर काफी उत्साहित हूं. इस फिल्म की कहानी लोगों की आंखें खोल देगी. इस फिल्म में दिखाया गया है कि हर सिक्के के दो पहलू होते हैं और हमें हमेशा दोनों पहलुओं पर गौर करना चाहिए. रेप का शिकार होने वाली महिलाओं पर तोहमतें लगाने का सिलसिला बंद होना चाहिए. यह पीड़िता की गलती नहीं होती है कि वह रेप का शिकार हो जाती है. दोषियों को सलाखों के पीछे होना चाहिए और कानून को ऐसे लोगों के साथ कड़ाई से पेश आना चाहिए. एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते हमारा फर्ज बनता है कि हम रेप की पीड़िताओं को लेकर लोगों के नजरिए में बदलाव लाने की हरसंभव कोशिश करें.‘‘

Tags:
COMMENT