दुनिया की पहली भाषाई ईमेल सेवा प्रदाता कंपनी डेटामेल ने अपने एप्लिकेशन पर अनलिमिटेड स्टोरेज की घोषणा की है. कंपनी का दावा है कि यह दुनिया में इकलौता एप है जो अनलिमिटेड स्पेस देता है.

डेटामेल ईमेल सेवा को डेटा एक्सजेन टेक्नोलॉजीज ने विकसित किया है. डेटा एक्सजेन टेक्नोलॉजीज के संस्थापक और सीईओ डॉ. अजय डेटा ने एक बयान में कहा, “ईमेल्स की व्यक्तिगत या कारोबारी संचार में महत्वपूर्ण भूमिका है.

इसमें महत्वपूर्ण डेटा होता है, जरूरत लंबी अवधि तक और निरंतरता के साथ पड़ती है. लेकिन कभी-कभी लिमिटेड स्टोरेज होने की वजह से मेलबॉक्स फुल हो जाता है और स्पेस की कमी की वजह से कामकाज प्रभावित होता है.

ऐसी परिस्थिति में यूजर्स को कुछ ईमेल्स को डिलीट करना होता है या ईमेल्स और डेटा को खोने से बचाने के लिए अलग-अलग बैकअप्स बनाने होते हैं.”

डेटामेल ने इस समस्या को समझा और अपने यूजर्स को अपने एप्लिकेशन के माध्यम से अनलिमिटेड स्टोरेज उपलब्ध कराया. डेटामेल में अनलिमिटेड स्टोरेज सुविधा यूजर्स को अपने स्तर पर और अपनी जरूरत के मुताबिक स्पेस कोटा बढ़ाने की अनुमति देता है.

अनलिमिटेड स्पेस पाने के लिए एप के भीतर ही टॉप कॉर्नर पर गिफ्ट बॉक्स दिया है. यूजर्स को उसे ना है और उपहार में दी गई किसी खास एक्शन को फॉलो करना होता है. जब वे एक्शन को पूरा करते हैं तो एक एमबी स्पेस उनके ईमेल अकाउंट में जुड़ जाती है.

यूजर्स जितनी बार चाहें, उतनी बार यह कर सकते हैं. यह उन्हें यूजर्स को आने वाली दिक्कतों को दूर करने में मदद करते हैं, जैसे कि कम स्टोरेज स्पेस होने से ईमेल बाउंस होना शामिल है. वे ईमेल्स के जरिये आसानी से संचार कर सकते हैं.

बयान में कहा गया कि छात्रों और पेशेवरों के लिए यह एक बहुत अच्छा ईमेल अकाउंट बन जाता है, क्योंकि उनके ईमेल खाते पर पूरी तरह से उनका नियंत्रण होगा और जब भी वे चाहेंगे तो डेटामेल एप से अपने खाते में स्टोरेज बढ़ा सकेंगे. यह न केवल स्टोरेज संसाधनों को खराब होने से रोकता है, बल्कि कंपनी और यूजर्स के लिए संसाधनों के लिए इस्तेमाल को बेहतर बनाता है.

आज यूजर्स को आवंटित स्थान मिलता है और उपयोग न होने के कारण यह स्पेस बेकार हो जाती है, जबकि कुछ लोगों को अतिरिक्त स्पेस की जरूरत होती है और वे स्पेस के लिए संघर्ष करते रहते हैं. डेटामेल इस समस्या को हल करता है, क्योंकि इसमें आपके पास स्टोरेज कोटा की पूर्व-निर्धारित ऊपरी सीमा ही नहीं होती है.

कंपनी का कहना है कि भारत में निर्मित, ‘डेटामेल’, दुनिया की पहली भाषाई ईमेल सेवा है, जो आईडीएन की कई भारतीय और विदेशी भाषाओं में समर्थन करती है. इसे किसी भी एंड्रॉयड या आईओएस सिस्टम से मुफ्त में डाउनलोड किया जा सकता है. वर्तमान में भारत में हिंदी, गुजराती, उर्दू, पंजाबी, तमिल, तेलुगू, बांग्ला और मराठी सहित पंद्रह क्षेत्रीय भाषाओं में भाषाई ईमेल सेवा पेश की जा रही है.

Tags:
COMMENT