सरिता विशेष

ऋतु की अभिषेक से अच्छी बनती थी. यहां तक कि औफिस में दोनों साथ लंच करते, घूमतेफिरते, लेकिन एक दिन जब ऋतु को उस के फ्रैंड ने अभिषेक के साथ वाशरूम में देखा तो ऋतु डर गई और हड़बड़ाहट में उस ने खुद को सब की नजरों में सही दिखाने के लिए चिल्ला चिल्ला कर अभिषेक पर बलात्कार का आरोप लगाने लगी. यह देख अभिषेक के साथसाथ उस के फ्रैंड्स भी दंग रह गए, क्योंकि जो नजारा उन्होंने देखा था उस से ऋतु की मरजी साफ जाहिर हो रही थी. सभी जानते थे कि वह अभिषेक को फंसा रही है, लेकिन कोई कहने की हिम्मत सिर्फ इसलिए नहीं जुटा पा रहा था कि कहीं ऋतु उसे भी फंसा न दे.

अधिकांश मामलों में यही देखने को मिलता है कि जब युवतियों की मांगें पूरी नहीं होतीं या फिर वे खुद फंसती दिखती हैं तो युवकों पर बलात्कार का आरोप लगा कर उन्हें फंसाने की कोशिश करने लगती हैं. इसलिए अगर आप भी रिलेशनशिप में हैं तो पहले से सावधानी बरत कर चलें. कहीं कोई आप को भी फंसा न दे.

कब कब लगा सकती है आरोप

झगड़ा होने पर

‘आजकल तुम रिया के साथ ही ज्यादा बातें करते हो, मुझे हमेशा इग्नोर करने की तुम्हारी इतनी हिम्मत’, ‘तुम तो हमेशा अपने लिए ही जीते हो’, ‘तुम तो कभी रोमांटिक बातें ही नहीं करते’, ‘मुझ से ज्यादा तुम्हें औरों में इंट्रस्ट है’ आदि बातों को ले कर अकसर लड़ाई होने पर युवती आप को फंसाने या फिर सबक सिखाने के लिए बलात्कार का आरोप लगा सकती है.

बात नहीं मानने पर

बातबात पर जिद करना कि मुझे तो नेहा जैसा मोबाइल ही चाहिए, मैं तो तुम्हारे साथ महंगे रैस्टोरैंट में ही डिनर करूंगी, तुम मुझे यह स्कूटी दिलवाओ और जब आप की पौकेट इन चीजों के  लिए इजाजत नहीं देती या आप मना करने लगते हैं तो युवती को लगने लगता है कि मेरा बौयफ्रैंड तो कंजूस है. फिर वह आप से गलत तरीके से पैसे ऐंठने के लिए आप को फंसा सकती है.

पैसों की डिमांड पूरी न होने पर

कभी पर्स चोरी होने की बात कह कर, कभी रिचार्ज करवाने के लिए तो कभी किसी बहाने से आप से पैसों की मांग करे. 1-2 बार तो आप भी रिश्ते की खातिर उसे पैसे दे देंगे, लेकिन आदत बनती देख आप को भी यह सब खटकने लगेगा और जैसे ही आप पैसे देने बंद करेंगे वैसे ही आप फंसे, क्योंकि ऐसी युवतियां रिश्ता दिल से नहीं रखतीं.

शादी नहीं करने पर

आप दोनों काफी समय से रिलेशनशिप में थे, लेकिन घर की जिम्मेदारियों व मां के न मानने के कारण आप ने अपने पार्टनर से शादी करने से मना कर दिया जो आप के पार्टनर को बिलकुल बरदाश्त नहीं और उस ने आप को झूठे आरोप में फंसा दिया, जबकि आप ने उस के सामने यह बात पहले ही रख दी थी कि हम हमेशा सिर्फ दोस्त रहेंगे चाहे शादी हो या न हो.

ब्रेकअप होने पर

आप जान गए थे कि आप की पार्टनर आप को चीट कर रही है. एक तरफ आप से प्यार की बातें वहीं दूसरी तरफ किसी और से. ऐसे में आप ने उस से ब्रेकअप कर लिया जिसे अपना अपमान मान कर वह आप को कहीं मुंह दिखाने लायक नहीं छोड़ेगी.

फ्रैंड्स के साथ ज्यादा समय बिताने पर

अधिकांश युवतियों की यह हैबिट होती है कि वे खुद की इग्नोरैंस बिलकुल बरदाश्त नहीं करतीं, खासकर तब जब उन्हें लगे कि उन का बौयफ्रैंड उन से ज्यादा दोस्तों से बात कर रहा है. ऐसे में वे औरों की नजरों में गिराने के लिए आप को बदनाम कर सकती हैं.

सरिता विशेष

कैसे बचें

शारीरिक संबंध न बनाएं

रिलेशनशिप में होने पर हमारी पहली चाहत अपने पार्टनर को पाने की होती है, जिस के कारण हम जल्दबाजी में बिना सोचसमझे उस के साथ शारीरिक संबंध बना बैठते हैं, जिस के बाद में खतरनाक परिणाम भुगतने पड़ते हैं. ऐसे में जरूरी है कि जब तक रिश्ते को नाम न मिल जाए तब तक संबंध बनाने की गलती न करें.

फोटो न खींचने दें

अगर आप खुद की फीलिंग्स पर कंट्रोल न रख पाने के कारण रिलेशन बना रहे हैं तो कोशिश करें कि न खुद इस मूवमैंट के फोटो शूट करें और न ही पार्टनर को करने दें वरना यह आप के ब्लैकमेल का रास्ता बन सकता है.

अपना बैंक बैलेंस न बताएं

कई बार हम ओवर ऐक्साइटमैंट में अपने पार्टनर को अपनी सारी पर्सनल इन्फौर्मेशन जैसे बैंक बैलेंस वगैरा के बारे में बता देते हैं. एक बार आप की आर्थिक स्थिति का पता लगने के बाद वह न सिर्फ आप से पैसे ऐंठ सकती है बल्कि मोटी रकम वसूलने के लिए आप पर रेप का आरोप लगाने में भी देर नहीं लगाएगी.

ड्रिंक वगैरा न लें

आप जब भी पार्टनर के साथ हों तो ड्रिंक वगैरा न करें ताकि आप को उस की गतिविधियों का पता चलता रहे.

लिव इन में न रहें

भले ही आप लिव इन रिलेशनशिप में एकदूसरे की मरजी से रह रहे हैं, लेकिन जब भी मन भरने लगे या मजबूरीवश आप अपने पार्टनर से दूर हुए तो वह आप को सुबूतों सहित रेप के जुर्म में बंद करवा सकती है. ऐसे में आप के पास अपनी सफाई में कहने को कुछ नहीं होगा इसलिए इस ओर सावधानीपूर्वक बढ़ें.

फोन, व्हाट्सऐप पर सैक्सी चैट से दूर रहें

व्हाट्सऐप पर कभी भी अपने पार्टनर से सैक्सी बातें न करें. आमनेसामने ऐसी बातें करें वरना वह फोन पर रिकौर्डिंग कर के यह टूल आप को ब्लैकमेल करने के लिए इस्तेमाल कर सकती है, इसे आप झुठला भी नहीं पाएंगे.

पिछले सीक्रैट्स न बताएं

आप पहले किसी के साथ रिलेशनशिप में थे, किस कारण आप का उस के साथ पंगा हुआ वगैरावगैरा बातें पार्टनर से शेयर न करें वरना वह इन्हीं सीक्रैट्स से भविष्य में आप के लिए मुसीबत पैदा कर सकती है. जब आरोप लगाए तब क्या करें

धमकी का जवाब धमकी से न दें

यदि आप की पार्टनर ने आप को गुस्से में आ कर फंसाने की धमकी दी है तो आप यह बात सुन कर गुस्से में न आएं, क्योंकि अगर दोनों ओर गरमी का माहौल होगा तो स्थिति को संभालना मुश्किल हो जाएगा.

छिपें नहीं, फेस करें

इस दौरान छिपने से काम नहीं चलेगा, क्योंकि ऐसा करने से लोगों को लगेगा कि आप ने सचमुच कोई अपराध किया है बल्कि जिस तरह आप पहले अपनी जिंदगी जीते थे वैसे ही जीएं. अगर वह सामने भी आ जाए तो नौर्मल रहें.

फोन अटैंड करें

डर के मारे कि कहीं फोन पर रिकौर्डिंग न कर ले इस चक्कर में अपना नंबर ही चेंज कर लें या फिर उस के फोन ही अटैंड न करें. ऐसा करने की गलती न करें बल्कि फोन पर उसे समझाएं कि हमारे बीच सिर्फ दोस्ती का रिश्ता था और अगर तुम्हें मुझ से कोई प्रौब्लम थी भी तो उसे प्यार से समझाती, न कि इस तरह आरोप लगा कर.

पेरैंट्स को लें कौन्फिडैंस में

अपनी समस्या पेरैंट्स को अवश्य बताएं कि मैं ने जिस युवती से फ्रैंडशिप की थी उस ने अब मेरी गलती न होते हुए भी मुझे फंसा दिया है. ऐसे में पेरैंट्स आप को सपोर्ट करेंगे और इस से युवती को भी लगेगा कि अब आप अकेली नहीं हैं.