सरिता विशेष

बौलीवुड के साथ साथ हौलीवुड में भी सक्रिय अभिनेता इरफान खान को फिल्म निर्माण में मजा आने लगा है. इसी के चलते ईशान नायर निर्देशित फिल्म ‘‘काश’’ का निर्माण करने के बाद इरफान खान अब बतौर सह निर्माता दूसरी फिल्म भी बनाने जा रहे है. जी हां! अब इरफान खान अंतरराष्ट्रीय स्तर की अंग्रेजी व बांगला भाषा की द्विभाषी फिल्म ‘‘नो बेड आफ रोजेस’’ का सह निर्माण कर रहे हैं, जिसका लेखन व निर्देशन मशहूर बांगलादेशी फिल्मकार मुस्तफा सरवर फारूकी करने वाले हैं. बंगला भाषा में इस फिल्म का नाम ‘‘देबू’’ होगा. इन द्विभाषी फिल्मों का सह निर्माण करने के साथ साथ इरफान खान इस फिल्म में मुख्य भूमिका निभाने वाले हैं. जबकि इस फिल्म के निर्माण से कोलकता की प्रोडक्शन कंपनी ‘‘इस्काय मूवीज’’ और बांगलादेश की प्रोडक्शन कंपनी ‘‘जैज मल्टी मीडिया’’ भी जुड़ी हुई हैं.

फिल्म के लेखक व निर्देशक मुस्तफा सरवर फारूकी अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त निर्देशक हैं. उनकी फिल्म ‘‘थर्ड पर्सन सिंगुलर नंबर’’ 2011 में बांगलादेश की आस्कर में भेजी गयी फिल्म थी.

आस्कर में 2011 में बांगलादेश की प्रतिनिधित्व वाली फिल्म ‘‘थर्ड पर्सन सिंगुलर नंबर’’ के अलावा 2014 की बांगलादेशी प्रतिनिधित्व वाली फिल्म ‘‘टेलीवीजन’’ मे मुख्य भूमिका निभा चुकी बंगलादेश की चर्चित अदाकारा नुसरत इमरोज तिषा अब फिल्म ‘‘नो बेड आफ रोजस’’ की नायिका होंगी. इसके अलावा हालीवुड फिल्म ‘‘एक्सः पास्ट इज प्रजेंट’’ की हीरोईन पर्नो मित्रा व ‘‘द क्ले बर्ड’’ की हीरोईन रोकेया प्रचय भी ‘‘नो बेड आफ रोजेस’’ में अभिनय करने वाली हैं.

उत्तर बंगाल, ढाका और बांगलादेश में फिल्मायी जाने वाली फिल्म ‘‘नो बेड आफ रोजेस’’ का जिक्र छिड़ने पर अभिनेता इरफान खान कहते हैं-‘‘यह फिल्म विश्व सिनेमा का परिदृश्य बदलने वाली फिल्म साबित होगी. इस फिल्म के निर्देशक मुस्तफा सरवर फारूकी का मैं पुराना प्रशंसक हूं. मैं तो इनकी पहली फिल्म ‘‘एंट स्टोरी’’ देखकर ही प्रशंसक बन गया था. उसके बाद भी वह कई उत्कृष्ट फिल्में बनाते आए हैं. मैं उनकी फिल्मों की कहानी व उनकी कथा कथन की शैली का मुरीद बन चुका हूं. उनकी फिल्मों में मानवीय पहलुओं को उजागर किया जाता है, जिसके चलते उनकी फिल्मों के किरदार मल्टीलेअर वाले होते हैं. इसी के चलते मैं उनके साथ जुड़ने के लिए उत्सुक हुआ.’’