कास्टिंग काउच फिल्‍म इंडस्‍ट्री का एक गहरा काला सच है, जिस पर भले ही लोग बात करने से डरे, लेकिन इसके होने की बात लगभग सब मानते हैं. अब बौलीवुड के इस काले सच पर कोरियोग्राफर सरोज खान ने ऐसा बयान दिया है जिसको सुनने के बाद शायद हर कोई शर्मिंदा हो जाएगा.

दरअसल कास्टिंग काउच के मामले पर सरोज खान से जब सवाल का गया तो उन्होंने कहा, ये सब तो बाबा आदम के जमाने से चला आ रहा है. हर लड़की पर कोई न कोई हाथ साफ करने की कोशिश करता ही है. लेकिन इंडस्ट्री में लड़की को रेप करके यूं छोड़ नहीं देते, उन्हें काम और रोजी-रोटी भी देते हैं. इसलिए किसी को भी इन मामलों को लेकर सिर्फ फिल्म इंडस्ट्री के पीछे नहीं पड़ना चाहिए. ये सब लड़की को हाथों में होता है. अगर तुम्‍हारे पास कला है तो अपने आपको इंडस्‍ट्री में बेचने की क्‍या जरूरत है.

सरोज खान ने सरकार पर भी कमेंट किया, उन्होंने कहा, सरकार भी ऐसा करती है. सरकार के लोग भी करते हैं. लेकिन लोग सिर्फ फिल्म इंडस्ट्री के पिछे क्यों पड़ रहते हैं. सिर्फ फिल्म इंडस्ट्री का नाम मत लो वो हमारा माई-बाप है.

जब उनके इस बयान पर मीडिया ने प्रतिक्रिया मांगी तो सरोज ने कहा- मुझे खेद है. मैं माफी मांगती हूं. बता दें कि दक्षिण भारत की एक स्ट्रगलर अदाकार श्री रेड्डी के बयान की वजह से भारत की फिल्म इंडस्ट्री में कास्टिंग काउच पर काफी बहस हो रहा है. एक्ट्रेस श्रुति सेठ ने कास्टिंग काउच पर बात रखने के लिए सरोज की भाषा का विरोध किया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘उनका (सरोज) इरादा सही है, लेकिन उन्होंने गलत शब्दों का इस्तेमाल किया.