बौलीवुड एक्ट्रेस रवीना टंडन कास्टिंग काउच जैसे गंभीर मुद्दे पर बयान देने की वजह से चर्चा में आ गईं हैं. उन्होंने एक टीवी शो के दौरान कहा कि यह उन्हीं के साथ होता है जो समझौता कर लेता है. उन्होंने साथ ही इस मामले में दोनों तरफ के लोगों को जिम्मेदार बताया. रवीना ने कहा कास्टिंग काउच किसी पर जोर देकर नहीं होता है. यह दोनों तरफ की भागीदारी से ही हो सकता है. उन्होंने साथ ही यह भी कहा कि जो लोग काम के लिए डेसप्रेट होते हैं यह उन्हीं के साथ ज्यादातर होता है. रवीना को बौलीवुड में उनके बिंदास स्टाइल के लिए जाना जाता है.

रवीना ने हाल ही में टौक शो चौपाल का हिस्सा बनीं. वह पिछले काफी समय से भारतीय सिनेमा का हिस्सा रही हैं इसलिए उनसे इंडस्ट्री के गंभीर मुद्दे पर बात की गई. शो के होस्ट ने जब रवीना से कास्टिंग काउच पर उनकी राय जाननी चाही तो उन्होंने कहा, ‘सच कहूं तो मेरे साथ ये कभी हुआ नहीं है.

bollywood

यहां कास्टिंग काउच और एक सहकर्मी के रिलेशनशिप और यौन उत्पीड़न के बीच में फर्क समझना होगा. कास्टिंग काउच तब होता है जब आप पर प्रेशर हो कि जब तक आप मुझे खुश नहीं करेंगे तब तक मैं आपको खुश नहीं करूंगा. दुर्भाग्य से लेकिन ऐसा कुछ कभी मेरे साथ नहीं हुआ. ज्यादातर तो मेरी फिल्म के हीरो भी मेरे से डरा करते थे. सौभाग्य से मैंने कभी इसका सामना नहीं किया’.

रवीना ने आगे कहा, ‘ज्यादातर यह उन्हीं के साथ होता है जो काम के लिए बहुत डेसप्रेट होते हैं या ओवर एम्बीशियस होते हैं. उन्हें लगता है कि बस इसी तरह से सफलता पाई जा सकती है. मैं इसमें दोनों पक्षों को समान भागीदार मानती हूं. यह समान रूप से आपके काम को लेकर आतुर होने की वजह से ही होता है’.

यहां रवीना से यह भी जानने की कोशिश की गई कि क्या कास्टिंग काउच का सामना फिल्मी बैकग्राउंड से जुड़े लोगों को भी करना पड़ता है या जो बाहर से आते हैं उन्हें ही इसे लिए अप्रोच किया जाता है. रवीना ने इस पर कहा, ‘ऐसा बिल्कुल नहीं है कि यह सिर्फ छोटे शहर के या बाहर से आए लोगों के साथ होता है. इसक सामना हर लेवल के लोगों को करना पड़ता है. यह हर किसी के साथ हो सकता है, लेकिन यह आप पर है कि आप क्या चाहते हैं’.

Tags: