छोटा सा कद. ज्यादा वजन भी नहीं और उम्र महज 18 साल. यह सौरमंडल का कोई नया ग्रह नहीं है पर चमकता किसी सितारे की तरह है. हम बात कर रहे हैं मुंबइया क्रिकेटर पृथ्वी शौ की जिन्होंने हाल ही में वेस्टइंडीज के साथ हुई 2 मैचों की टेस्ट सीरीज से अपने टेस्ट क्रिकेट की शुरुआत की और धमाल मचा दिया. इन 2 टेस्ट मैचों में पृथ्वी शौ ने 237 रन बनाए. रन बनाने की औसत रही 118.5 और स्ट्राइक रेट 94 थी. इस में एक शतक और एक अर्धशतक शामिल था.

पृथ्वी शौ ने राजकोट में खेले गए अपने पहले टेस्ट मैच की पहली पारी में शानदार 134 रन बनाए थे. इस मैच में भारत एक पारी और 272 रनों से जीता था. हैदराबाद में खेले गए दूसरे मैच में पृथ्वी शौ ने पहली पारी में ताबड़तोड़ 72 रन बनाए थे जबकि दूसरी पारी में वे 33 रन बना कर नाबाद रहे थे. नतीजतन, भारत ने इस सीरीज में जीत हासिल की और पृथ्वी शौ के हाथ में थी 'मैन औफ द मैच' की चमचमाती ट्रौफी.

अपने पहले ही टेस्ट मैच में शतक जमाने वाले पृथ्वी शौ के उम्दा खेल से भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री इतने खुश हुए कि उन्होंने पृथ्वी को सचिन तेंदुलकर, ब्रायन लारा और वीरेंद्र सहवाग का 'डेडली कौम्बिनेशन' बता दिया.

पृथ्वी शौ की तेजतर्रार बल्लेबाजी के खुद सचिन तेंदुलकर कायल हैं. उन्होंने पृथ्वी की तारीफ करते हुए कहा, "बिना डर के बल्लेबाजी करना जारी रखो."

पृथ्वी शौ को भी सचिन तेंदुलकर की तरह बल्लेबाजी करना पसंद है लेकिन साथ ही वे हमेशा पृथ्वी ही बने रहना चाहते हैं.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
COMMENT