श्मशान घाट का नाम सुनते ही अच्छेअच्छों की रूह कांपने लगती है. हर कोई वहां जाने से डरता है या कतराता है. वजह चाहे कुछ भी हो, पर आज भी लोग वहां जाने से गुरेज करते हैं. पर चोरों की हिम्मत की दाद देनी होगी कि उन्होंने वहां भी दबिश दे कर बड़े ही सुनियोजित तरीके से चोरी को अंजाम दिया.

जी हां, फरीदाबाद में चोर अब श्मशान घाट को भी अपना टारगेट बना रहे हैं. इतना ही नहीं, आसपास के इलाकों में चोरों के हौसले इतने बुलंद हैं कि चोरी की वारदात कहां कैसे करनी है, पहले से ही पूरा खाका तैयार कर लेते हैं और वारदात को अंजाम देने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं. अब तक तो घर, गोदाम, दुकानों के अलावा झीनाछपटी जैसे छिटपुट मामले ही सामने आते रहे हैं, पर अब चोर अपना निशाना श्मशान घाट को भी बना रहे हैं. वजह, घरों में चोरी करना अब इन चोरों के लिए मुश्किल काम हो गया है क्योंकि जब से लौकडाउन लगा है, तभी से लोग अपने घरों से बाहर निकल नहीं पा रहे हैं और चोर चोरी को अंजाम नहीं दे पा रहे हैं. वहीं चैन स्नैचिंग की घटनाएं भी काफी कम हो गई हैं?

चोर आखिर करें तो क्या करें, यही सोच उन्हें श्मशान घाट की ओर ले गई और हिम्मत रख आखिर चोरी की वारदात को अंजाम दे ही दिया गया.

ये भई पढ़ें-फार्म एन फूड में लेखन के लिए मिला कृषि का सबसे बड़ा सम्मान

यह वारदात फरीदाबाद की डबुआ कालोनी में स्थित श्मशान घाट में 16 जुलाई, 2020 को हुई. रात 2 बजे के आसपास श्मशान घाट में 3 चोरों ने चोरी की वारदात को अंजाम दिया. इन चोरों ने अचानक ही वहां दबिश दी और दानपात्र को तोड़ कर उस में रखी नकदी निकाल ली और साथ ही, वहां  मौजूद अंतिम संस्कार का सामान बेचने वाले व्यक्ति का गल्ला तोड़ कर हजारों की नकदी निकाल कर फरार हो गए.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT