तेज धूप किसान की हर दिन मुसीबत बन रही थी. उस की फसल झुलस रही थी. वह बाजार जाता तो ज्यादा भाव सुन कर ही लौट आता. संगीसाथी भी कुछ अच्छी सलाह नहीं दे पाए. पर कुछ बुजुर्ग किसानों ने अपने तजुरबे साझा किए. उस के दिमाग ने भी काम करना बंद सा कर दिया. झुलसती फसल देख वह कुछ कर नहीं पा रहा था. आखिर उस किसान ने फसल को बरबाद होने से बचाने की तरकीब सोची जो कामयाब भी रही.

यह मामला कर्नाटक के हुबली कसबे का है. वहां के एक किसान वेंकटेश बी. को अपनी अनार की फसल को धूप से बचाने का यही कारगर उपाय सूझा और अपने खेत में अपनाया. तरीका था खेत को धूप से बचाने के लिए रंगीन साड़ियों से ढकना. रंगबिरंगी साड़ियों को देख आसपास के लोग भी वहां आ कर सैल्फी लेने लगे. यही सैल्फी लोगों के बीच काफी लोकप्रिय हो गई और समूचे इलाके में हैरानी का विषय बन गई.
यहां तक कि कर्नाटक में मुंदरगी और गडग इलाके के बीच सफर करने वालों के लिए अनार का यह खेत सैल्फी पौइंट बन गया. लोग यहां रुक कर सैल्फी क्लिक कर रहे हैं और दूसरे लोगों को ह्वाट्सएप व फेसबुक के जरीए शेयर कर रहे हैं.

दरअसल, किसान वेंकटेश बी. ने तेज धूप से अपनी फसल को बचाने के लिए उसे रंगबिरंगी साड़ियों से ढक दिया. इस से उन का रंगबिरंगा खेत लोगों के बीच खासा लोकप्रिय हो गया है. किसान वेंकटेश बी. ने अपने 10 एकड़ खेत में अनार की खेती की है. इस जमीन को उन्होंने 10 साल के लिए लीज पर लिया हुआ है.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT