शाहिद कपूर की फिल्म 'कबीर सिंह' बाक्स औफिस पर अपना कमाल दिखा रही है 200 करोड़ रुपए कमाई के क्लब में शाहिद कपूर स्टार्टर फिल्म शामिल होने जा रही है. मगर क्या आपने यह फिल्म देखी हैं या इसकी स्टोरी सुनी है. दरअसल यह मूवी एक साइको बीमारी से पीड़ित शख्स की कहानी बताती है, जो गुस्सैल है,  और महिलाओं के साथ कभी भी कैसी भी हरकत कर सकता है जिसकी आप कल्पना भी नहीं कर सकते. मूवी तो आप थिएटर में देखेंगे, मगर हम आज बात कर रहे हैं हमारे बीच, हमारे शहर में सायको पीड़ितों अर्थात मानसिक रोगियों के बारे में....

शाहिद कपूर की यह फिल्म आज के समय की सच्चाई को प्रस्तुत करती है. हमारे आस-पास भी ऐसे पात्र हैं जिन्हें हम देखते हैं और नजरअंदाज करते हैं. हम यह चिंतन करने को तैयार नहीं हैं की यह आदमी ऐसी असाधारण हरकतें क्यों कर रहा है थोड़ा सा प्यार थोड़ा सा सम्मान और देख रेख से यह साइको पीड़ित स्वस्थ हो सकता है.

संदीप रेड्डी वांगा निर्देशित इस फिल्म में सच्चाई का समावेश है, जीवन का सत्य है. इसलिए जहां शाहिद कपूर की आलोचना हो रही है वहीं बड़ी प्रशंसा भी हो रही है. मगर शाहिद कपूर इस फिल्म का रिएक्शन बड़े मजे से देख सुन नो कमेंट के मूड में है. भारतीय  फिल्म दुनिया अर्थात बौलीवुड और हौलीवुड दोनों जगह ऐसी फिल्में अक्सर बनी है महान एक्टर्स ने इनमें काम किया है और अमर हो गए हैं.

हमारे बीच भी है कबीर !

जी हां! हमारे बीच भी 'कबीर सिंह' मूवी सदृश्य किरदार है. विगत 28 मई 2019 को छत्तीसगढ़ के औद्योगिक नगर कोरबा के कोतवाली क्षेत्र में कुछ ऐसी ही विचित्र  घटना घटी. मामला पुलिस थाना पहुंचा और पुलिस ने रपट लिख कर छानबीन प्रारंभ कर दी,  मगर कोई सूत्र हाथ नहीं आया .
दरअसल हुआ यह कि छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत मंडल के संयंत्र में कार्यरत मधु (काल्पनिक नाम) नामक महिला के आवास पर रात्रि 1 बजे कोई दस्तक देता है. महिला अकेली होती है, वह दरवाजा खोलती है तो देख कर दंग रह जाती है और घबरा जाती है. एक शख्स पूर्ण " नग्न "घर के बाहर खड़ा था हाथ में चाकू है वह इंजीनियर महिला को धक्का देता है और उसके आवास में बलात, प्रविष्ट होने लगता है. महिला घबरा जाती है मगर साहस देखिए वह उसका हाथ पकड़ लेती है जिसमें वह शख्स चाकू पकड़ा हुआ है. दोनों में छीना झपटी होती है, हल्ला होता है  वह व्यक्ति महिला को धक्का देकर भाग जाता है मगर इस धक्का-मुक्की में इंजीनियर महिला को चाकू से हल्का घाव हो जाता है महिला थाना पहुंच रपट लिखाती है. पुलिस अचंभित थी की यह कैसी घटना है, आदमी नग्न वह भी हाथ में चाकू लेकर आखिर क्या करने महिला के आवास पर आया था. क्या महिला को डराना था, अस्मत लूटनी थी या उस शख्स का इरादा लूट का था? पुलिस ने मौन, मामला दर्ज कर जांच प्रारंभ कर दी मगर कई दिनों तक इसका खुलासा नहीं हो पाया.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT