छुट्टा जानवरों से खेत और फसल को सुरिक्षत रखने के लिये उत्तर प्रदेश की मोदी सरकार ने ‘पशु आश्रय केन्द्र’ ग्राम पंचायत स्तर पर खोलने का फैसला किया था. जिसके तहत कटीले तार के बाड़े और पानी भरी खाई को खोद कर ग्राम प्रचायतों में ‘पशु आश्रय केन्द्र’ बनाये गये. इनमें जानवरों के चारा पानी और देखभाल के लिये सरकार द्वारा बजट भी स्वीकृत किया है.

Tags:
COMMENT