रोजमर्रा की हमारी लाइफ में फैशन का एक अपना स्थान है. जिसमें दिन प्रतिदिन बदलाव होना लाजमी है. मौडलिंग रैम्प हो या घर की वार्डरोब दोनों में इसकी अच्छी खासी पैठ है फैशन इंडस्ट्री ने हर जगत में अपनी एक छापछोड़ी हुई है. चाहे वो हौलीवुड हो या बौलीवुड इंडस्ट्री हो या आम लोगों की लाइफ का हिस्सा. यह जितना ज्यादा बड़ा होता जा रहा है उतना ही चिंता का सबब बनता जा रहा है इससे तकरीबन 5 करोड़ लोगों का रोजगार चल रहा है. अब जहां सरकार प्लास्टिक को लेकर चिंतित हैं वहीं  फैशन वैस्ट भी कगार में है जिससे निबटने के लिये कई कंपनियां आगे आ रही हैं.                                                                                                                                                                      अब सस्टेनेबल फैशन का दौर शुरू हो रहा है यह अपमार्केट होने के साथ ही टिकाऊ भी है. इसमें फैशन के लग्जरी होने के साथ साथ पर्यावरण की सुरक्षा का पूरा ध्यान रखा जाता है. फैशन जगत में पांव रखने वाले या मौजूदा लोगों को यह सीखना बहुत जरूरी है. इसके लिये औनलाइन कोर्स मौजूद है.

Tags:
COMMENT