सपा नेता और प्रौपर्टी डीलर चंद्रपाल ने गुंडे दिलीप को न केवल जेल जाने से बचाया बल्कि उसे अपना सुरक्षा गार्ड बना कर साथ भी रख लिया. सुरक्षा के लिए उसे हथियार भी दे दिया. जब दिलीप की नजरें चंद्रपाल की बीवी सोनी से लड़ीं तो दिलीप ने उसी हथियार से चंद्रपाल की हत्या कर दी.

उत्तर प्रदेश के जिला संभल से करीब 25 किलोमीटर दूर है चंदौसी शहर. चंदौसी में देशी घी और मैंथा औयल की मंडियां हैं. जिन की वजह से इस शहर की पहचान अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बनी हुई है. चंदौसी के हनुमान गढ़ी मोहल्ले में चंद्रपाल माली अपने परिवार के साथ रहते थे. उन के परिवार में पत्नी सोनी के अलावा एक बेटा था. चंद्रपाल समाजवादी पार्टी के स्थानीय नेता थे. इस के अलावा वह बड़े प्रौपर्टी डीलर भी थे.

बात 14 सितंबर, 2018 की है. शाम के करीब 5 बजे थे तभी कोतवाली प्रभारी विनय कुमार को पुलिस कंट्रोल रूम से सूचना मिली कि चंदौसी के हनुमान गढ़ी में रहने वाले सपा नेता चंद्रपाल माली को उन के घर में घुस कर किसी ने गोली मार दी है. यह सूचना मिलते ही कोतवाली प्रभारी विजय कुमार पुलिस टीम के साथ हनुमान गढ़ी स्थित उन के घर पहुंच गए.

वहां जा कर पता चला कि उन्हें अस्पताल ले जाया गया है. इंसपेक्टर विनय कुमार भी अस्पताल पहुंच गए. वहां जानकारी मिली कि 35 वर्षीय चंद्रपाल माली की मौत हो चुकी है. उन्होंने डाक्टरों से बात कर शव अपने कब्जे में ले लिया और इस की सूचना अपने आला अफसरों को दे दी. कुछ ही देर में सीओ कृष्णकांत सरोज वहां पहुंच गए.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT