सवाल
मैं 50 वर्षीय गृहिणी हूं. कोविड-19 का खतरा अभी टला नहीं था कि दोबारा से फिर इस की लहर तेज हो गई है. दहशत फिर से होने लगी है. लेकिन लोगों में लापरवाही आ गई है. सरकार फिर से सुरक्षा उपाय अपनाने पर जोर दे रही है लेकिन लोग जैसे सब हिदायतें मानमान कर तंग आ गए हैं. घर पर कोई आताजाता है तो मुझे डर लगता है कि कहीं संक्रमण घर में न आ जाए. किसी को घर पर आने से मना भी नहीं कर सकते. कुछ रिश्तेदार या प्रियजन बुरा भी मान जाते हैं. बड़ी दुविधा में पड़ जाती हूं कभीकभी. समझ नहीं आता, बेफिक्री के साथ जिंदगी कैसे जिएं?
ये भी पढ़ें-पति की एक प्राइवेट कंपनी में नौकरी है, वे अच्छा कमाते हैं परंतु कंजूस है ऐसे में मैं परेशान रहती हूं क्या करुं?
जवाब
कोरोना वायरस की दहशत हर शख्स को है. हां, एक साल से ज्यादा वक्त हो गया इस महामारी से जू?ाते हुए, तो लोग तंग जरूर आ गए हैं. कभीकभी लापरवाही बरत देते हैं, हालांकि यह गलत है. अब मुसीबत फिर पड़ी है, तो ?ोलना पड़ेगा ही. देखिए कोरोना से बचाव के लिए उपाय हर कोई अपना रहा है और अपनाने भी चाहिए. इस में नानुकुर करने की कोई बात ही नहीं.
इस महामारी को झेलते हुए इस से लड़ना हमें आ गया है. सुरक्षा उपाय को बनाए रखते हुए जब आप किसी के घर जाएं या कोई आप के घर आए तो गरम या गुनगुने पानी का ही सेवन करें. ठंडी चीजों से दूरी बनाएं. जब आप गरम पानी का सेवन करेंगे, तो रास्ते में किसी तरह के वायरस के संपर्क में यदि आप आए भी होंगे तो गरम पानी की मदद से उस का खतरा कम हो जाएगा.
ये भी पढ़ें- अब मुझे पति की आदतें बिलकुल पसंद नहीं आतीं, क्या करूं?
घर पर कोई आए तो उस से उचित दूरी बना कर बात करें. घर में किसी कमरे में बैठ कर बातचीत करने की अपेक्षा खुली जगह पर बैठ कर बातें कर सकते हैं, जैसे छत या आंगन. मास्क का इस्तेमाल जरूर करें. ऐसा न सोचें कि अब घर पर ही हैं, तो मास्क क्या लगाना.
घर में आए मेहमानों को ठंडी चीजें जैसे कोल्ड कौफी या कोई ठंडी चीज सर्व करने से बचें. इस के बजाय आप लौंगअदरक वाली चाय सर्व कर सकते हैं. पूरे सुरक्षा उपाय अपना कर ही लोगों को अपने घर में आने दें. कोई बुरा माने तो माने. लापरवाही का अंजाम तो आप को भुगतना पड़ेगा न. इसलिए सतर्क रहें.

Tags:
COMMENT