19 वीं लोकसभा चुनाव के लंबे उबाऊ चुनाव के बाद अब क्लाइमेक्स का समय आ गया है. मजेदार बात यह है कि बहुत सारी संभावनाओं में सबसे प्रबल संभावना मिली-जुली सरकार के बन रहे हैं. इसमें सबसे बडा पेंच यह है कि क्या गठबंधन में शामिल होने वाले लोग प्रधानमंत्री के तौर पर नरेन्द्र मोदी को अपना नेता स्वीकार करेंगे? इसके प्रश्न में ज्यादातर लोग यह मानते हैं कि भाजपा और एनडीए यानि नेशनल डेमाक्रेटिक एलांयस अगर बहुमत से सत्ता में नहीं आती तो प्रधानमंत्री कौन होगा ?

Tags:
COMMENT