कुछ दिनों पहले ही दिल्ली विधानसभा चुनाव हुए हैं. इन चुनावों में आप पार्टी ने एक बार फिर सरकार बना ली है. आप को 70 में से 62 सीटें मिली है. इस बार का दिल्ली चुनाव कई मायनों से खास रहा. पहला तो देशभर में सीएए का विरोध चल रहा था. दिल्ली के शाहीन बाग में लोग धरना दे रहे थे. देशभर में शाहीन बाग का मॉडल खूब प्रचलित हुआ और देश के कई शहरों में इसी के तर्ज पर धरने देने लगे.

दूसरा कारण था कि आप पार्टी ने दिल्ली की जनता को 200 यूनिट फ्री बिजली और पानी मुफ्त कर दिया. इतना ही नहीं चुनाव आते-आते महिलाओं के लिए फ्री डीटीसी सर्विस भी दे दी. अब राजनीति में अरविंद को विकल्प की तरह देखा जाने लगा. झारखंड में भी कुछ ऐसा ही देखने को मिला.

ये भी पढ़ें- Coronavirus पर बोले पीएम मोदी, लोगों से कहा- घबराने की जरूरत नहीं है 

झारखंड के वित्तमंत्री रामेश्वर उरांव ने मंगलवार को विपक्ष के हंगामे के बीच विधनसभा में वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए राज्य का बजट पेश किया. 86 हजार 370 करोड़ रुपये के बजट में 13,054.06 करोड़ रुपये पूंजीगत व्यय और 73,315.94 करोड़ रुपये का राजस्व व्यय रखा गया है. नए वित्तीय वर्ष में आठ प्रतिशत विकास दर प्राप्त करने का लक्ष्य रखा गया है. वित्तमंत्री उरांव ने बजट में शिक्षा, स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान दिया है. दिल्ली की तर्ज पर 100 यूनिट बिजली खपत करने वालों को बिजली मुफ्त में देने का प्रावधान भी बजट में किया गया है. साथ ही राष्ट्रीय राजधानी की तरह ही राज्य में 100 मोहल्ला क्लीनिक खोलने का प्रस्ताव बटज में दिया गया है.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT