बेहिसाब पावर के नशे में एक आईएएस इस कदर बौराया कि उस ने अपनी पहली ही पोस्टिंग में घूस लेने की कोशिश शुरू कर दी. बिहार में अपनी पहली ही पोस्टिंग के दौरान 80 हजार रुपए घूस लेने के आरोप में आईएएस जितेंद्र गुप्ता दबोच लिया गया. साथ ही, उस के प्राइवेट ड्राइवर संजय तिवारी और हाउस गार्ड अशोक श्रीवास्तव को भी जेल भेज दिया गया. आईएएस जितेंद्र गुप्ता बिहार के कैमूर जिले के मोहनियां के एसडीओ के तौर पर तैनात था और 12 जुलाई, 2016 की रात साढ़े 9 बजे उसे उस के सरकारी क्वार्टर से गिरफ्तार किया गया. बिहार में घूसखोरी के मामले में किसी आईएएस को दबोचने और जेल भेजने की यह पहली घटना है.

COMMENT