बौलीवुड में अकसर अभिनेत्री बनने का सपना लिए कई लड़कियां आती हैं लेकिन  ख्वाहिश कुछ की पूरी होती है. बाकी बची या तो सपोर्टिंग रोल करने लगती हैं या फिर शादी कर सैटल हो जाती हैं. कई बार सपोर्टिंग रोल या आइटम सौंग के जरिए धीरेधीरे ही सही एक अहम पहचान जरूर बन जाती है. स्वरा भास्कर भी ऐसी ही अदाकारा हैं जो आई तो अभिनेत्री बनने थीं लेकिन आज उन की पहचान सहायक भूमिका की कलाकार के तौर पर है. हालांकि इन सपोर्टिंग भूमिकाओं के लिए वे पुरस्कृत भी हो चुकी हैं. लेकिन फिल्म लिसन अमाया, माधोलाल कीप वाकिंग जैसी फिल्मों में उन्हें लीड भूमिकाएं मिली थीं पर ये फिल्में असफल रहीं. लिहाजा उन्होंने सहायक भूमिका स्वीकार कर ली. फिलहाल वे सलमान खान की फिल्म ‘प्रेम रतन धन पायो’ में भी एक अहम भूमिका में नजर आएंगी.

COMMENT