शेयर ट्रेडिंग और सेंसैक्स की उछाल देख कर मणिचंद ने पैसा लगा कर थोड़ा सा मुनाफा क्या कमाया कि खुद को शेयर बाजार का ‘शेर’ ही समझने लगे. लेकिन मणिचंद को असली झटका मिलना तो बाकी था. ऐसा झटका जिस ने उन के तमाम सपनों को चकनाचूर कर दिया.

मणिचंद आज बहुत खुश हैं. खुशी की वजह है कि वे बड़ीबड़ी प्रौपर्टीज को खरीदने, उन्हें मेंटेन करने से बच गए हैं. कैसे, यह जानने के लिए आप को 1 महीने पहले के फ्लैशबैक में जाना पड़ेगा.

Digital Plans
Print + Digital Plans
Tags:
COMMENT