ज्यादातर महिलाएं बाहरी कपड़ों को ले कर तो बहुत सजग रहती हैं, पर अंदरूनी कपड़ों पर ध्यान नहीं देती हैं, जबकि ये भी उन के वार्डरोब का अहम हिस्सा हैं, जिन की ओर पूरा ध्यान दिया जाना अतिआवश्यक है वरना आप कई दुष्प्रभावों का शिकार हो सकती हैं. अत: जब भी इनवियर, खासतौर पर पैंटी खरीदें, निम्न बातों का ध्यान जरूर रखें:

पैंटी सूती कपड़े की ही लें:

सूती कपड़ा त्वचा के लिए सब से अधिक स्वास्थ्यवर्धक होता है. अत: पैंटी जैसे अंदरूनी वस्त्र के लिए सूती ही चुनें. हालांकि सिल्क या सिंथैटिक कपड़े की पैंटी अधिक सैक्सी लगती है. किंतु ऐसी पैंटी हवा को आरपार नहीं जाने देती है, जिस से त्वचा रोग व इन्फैक्शन होने का खतरा बढ़ जाता है. यदि सिंथैटिक कपड़े की पैंटी खरीदनी ही हो तो उसे खरीदें, जिस के अंदर की लाइनिंग सूती कपड़े की हो.

सही नाप पर ध्यान दें:

पैंटी बड़ी होने के कारण झूलती हो तो दिक्कत और यदि बहुत तंग हो तो और भी दिक्कत यानी ढीली पैंटी चलनेफिरने में परेशानी करती है, तो तंग पैंटी में हवा आरपार नहीं होती है. साथ ही त्वचा में रगड़न की भी परेशानी हो सकती है. पैंटी का साइज अपनी ब्रा के साइज से बड़ा रखना चाहिए.

रंगबिरंगी पैंटी कम पहनें:

रंगबिरंगी पैंटी आकर्षक अवश्य लगती है, मगर डा. मोंटगोमरी के अनुसार कपड़े का रंग मुलायम त्वचा को नुकसान पहुंचा सकता है खासकर यदि त्वचा संवेदनशील हो. इसलिए सफेद पैंटी ही सर्वोत्तम है.

शेपवियर ज्यादा समय न पहनें:

पतली कमर और सुडौल शरीर के आकर्षण में महिलाएं शेपवियर पहन तो लेती हैं पर क्या उन्होंने इस तरफ ध्यान दिया कि इसे कितनी देर तक पहनना उचित है? डा. श्वेता के अनुसार ज्यादा देर तक शेपवियर पहनने से शरीर को दिक्कतें आ सकती हैं. शेपवियर शरीर के मांस को दबा कर रखता है. बहुत देर तक ऐसा करने से पित्त, अम्ल प्रतिवाह आदि समस्याएं हो सकती हैं. इसलिए कभीकभी ही पहनें और ज्यादा देर तक न पहनें.

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

सरिता डिजिटल

डिजिटल प्लान

USD4USD2
1 महीना (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

डिजिटल प्लान

USD48USD10
12 महीने (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

प्रिंट + डिजिटल प्लान

USD100USD79
12 महीने (24 प्रिंट मैगजीन+डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...