इन दिनों  आपके बच्चे घर पर ही पक्का खाना खा रहें होंगे और आगे भी उन्हें घर का ही पोष्टिक खाना खिलाना है , लॉक डाउन के बाद भी आपके नन्हे मुन्ने, बाल गोपाल घर पर ही खाना खाए और हिस्ट - पुष्ट रहे . तो आइये जानते है :-

(1)  बचपन का समय जो बच्चों के शारीरिक  बदलाव का एक प्रमुख समय होता हैं. इसलिए जरूरी है कि आप बच्चे के आहार में हरी सब्जियां, अंकुरित अनाज खाना ज्यादा ड़ालें. भले ही वे उन्हें पसंद नहीं करते हैं, ये सब इनके सेहत के बेहद जरूरी है.

ये भी पढ़ें-प्रेग्नेंसी के दौरान बेहद जरूरी है सही खानपान

(2 ) बच्चों को खाना परोसते हुए उसे थोड़ा डेकोरेट करें. ताकि वे खाने में दिलचस्पी लें और खेल-खेल में ही अपना खाना पूरा खत्म कर दें.

(3) अक्सर हमलोग गेंहू के आटे की रोटियां खाते हैं इस बात का नियम बनाए की आंटा चोकर के साथ बांये रोटियां उसको अलग नही करे , चोकर या छिल्का युक्त अनाज विटामिन बी और फाइबर से भरपूर होते हैं, जो आपके बच्चे का पेट भरने के साथ ही उनके पाचन को सुधारने में भी मददगार होते हैं.

(4)  अपने छोटे बच्चो  को इसके अलावा दलिया, क्विन्वा या ब्राउन ब्रेड,अंकुरित अनाज, सोयाबीन, चना भी खिलाएं.

(5) प्रोटीन युक्त आहार ऊतको का मरम्मत, हीमोग्लोबिन बनाने, रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने और मांसपेशियों को विकसित करने में मदद करता है. सी फूड, अंडे, लीन मीट, मुर्गी, फलियां, मटर, दूध, दाल, सोया आदि प्रोटीन के स्रोत होते हैं.

(6) अपने बच्चों को अलग-अलग प्रकार के फलों को खिलाए. मौसम के अनुसार मिलाने वाले ताजा फलों को पहले अच्छे तरह से साफ कर बच्चों को दे .

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT