आज के दौर में हर क्षेत्र का मशीनीकरण हो रहा है. यहां तक कि अब तो इंसान की जिंदगी को भी मशीन की संज्ञा दी जाने लगी है कि फलां की जिंदगी मशीन बन कर रह गई है. दिनरात में 24 ही घंटे होते हैं, तब भी और अब भी. लेकिन मौजूदा भागमभाग भरी जिंदगी और लोगों की बदलती जीवनशैली के चलते इंसान के पास समय नहीं बच पा रहा है. इंसान सोचता है कि काश, दिनरात के घंटे 24 से ज्यादा हो जाते...

जरूरी नींद लोगों को नहीं मिल पा रही, पूरी डाइट लेने का समय नहीं मिल पा रहा, एक्सरसाइज करने के लिए वक्त नहीं बचता. नतीजतन, लोगों की सेहत पर बुरा असर पड़ रहा है, जिस्म की फिटनेस का बाकी रहना तो दूर की बात है.

ऐसे में हम सब को टेक्नोलौजी को थैंक्स बोलना चाहिए जिस से डाइट, न्यूट्रीशन, एक्सरसाइज प्लान करने और हेल्दी नतीजों पर नजर बनाए रखने में मदद मिलती है. आईए जानते हैं कुछ ऐसे ही ऐप्स और डिवाइसेस के बारे में:

फिटसो

यह ऐप बीएमआर (लम्बाई और वजन से तय होता है) के हिसाब से सुझाव देता है. यदि आप वजन घटाना चाहते हैं तो यह ऐसा आप्शन है जिस में आप डाइट जर्नल के साथ, रोजाना जो कैलोरी ले रहे हैं, उन्हें आप ट्रैक कर सकते हैं. यह आप को शारीरिक गतिविधि के जरिए कैलोरी बर्न करने का सुझाव भी देगा. आप को टारगेट तय करने की जरूरत है, जिस में आप को बताना होगा कि आप सिर्फ डाइट के हिसाब से चलना चाहते हैं या डाइट और एक्सरसाइज दोनों के साथ. ऐप के जरिए कोच सर्विस ली जा सकती है जिस में आप को 149 रुपए हर महीने देने होंगे.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT