फिल्म की कहानी के केंद्र में तीन पात्र हैं. एक है रोहित (सलीम दिवान), जो कि दिल्ली के मध्यमवर्गीय परिवार का युवक है और एक काल सेंटर में नौकरी करता है. दूसरा पात्र है दुर्ग, भिलाई निवासी 52 वर्षीय सरकारी नौकर विष्णु श्रीवास्तव (आषीष विद्यार्थी). और तीसरा पात्र कलकत्ता के मशहूर रेडलाइट एरिया सोनागाछी की वेश्या इमली (राइमा सेन). इन तीनों पात्रों में समानता यह है कि यह तीनों मुंबई के बौलीवुड में बतौर कलाकार स्थापित होने का सपना देख रहे हैं. फिल्म में इन तीनों पात्रों की कहानी समानांतर चलती रहती है.

Tags:
COMMENT