आम पैदावार के मामले में भारत दुनियाभर में पहले नंबर पर है. और यहां पैदा होने वाला ज्यादातर आम यहीं पर खप जाता है लगभग 2 फीसदी ही आम देश से बाहर जाता है.

इस समय देश के अनेक हिस्सों से बाजार में आम आने लगते थे, लेकिन इस बार ऐसा नहीं है. दक्षिणी भारत के इलाकों से इस समय आम खासी मात्रा में देश के अनेक हिस्सों में पहुंचता था. भारत के उत्तरी भागों में आम का सीजन आने वाला है, लेकिन कोरोना के चलते किसान, व्यापारी सब नुकसान में हैं. इस बार मौसम के बिगड़ते मिजाज, बरसात, ओले, आंधी से भी आम की फसल को खासा नुकसान हुआ है.

Tags:
COMMENT