भारत जैसे कृषिप्रधान देश में किसान की कमाई का पूरा जिम्मा खेती पर टिका होता है. फसलों की लागत तेजी से बढ़ रही है और उपज प्रभावित हो रही है. उर्वरक खेती की अहम जरूरत होते हैं. कृषि में उपज बढ़ाने व पेड़पौधों की बढ़वार के लिए आमतौर पर इन का इस्तेमाल किया जाता है. ये जरूरी तत्त्वों की फौरन पूर्ति करते हैं. इन की मांग में कोई कमी नहीं आती. सभी फसलों के लिए ये जरूरी होते हैं. बाजार में मिलावटी व नकली उर्वरकों का भी बड़ा कारोबार है. नकली उर्वरकों की कीमत लगभग असली के बराबर ही होती है. इस धोखे व मुनाफे के गोरखधंधे में नक्कालों से ले कर एजेंट व दुकानदार तक शामिल होते हैं.

COMMENT