आज के समय में स्ट्रैस यानी तनाव जिंदगी का अहम हिस्सा बन चुका है. एक अमेरिकी वैज्ञानिक के मुताबिक स्ट्रैस मस्तिष्क में दबी हर प्रेरणा मांसपेशियों और त्वचा में दबाव पैदा करती है. जब तक इसे किसी क्रिया से निकाला नहीं जाता, मांसपेशियों में स्ट्रैस बना रहता है. इस स्ट्रैस से थकान और डिप्रैशन जन्म लेता है जो धीरेधीरे किसी गंभीर बीमारी का रूप ग्रहण कर लेता है. फिर क्यों न इस स्ट्रैस से बचा जाए और खुशहाल जिंदगी जी जाए.

दिल खोल कर हंसें

मत भूलिए कि हंसी कुदरत का अनुपम उपहार है. दिल खोल कर हंसना रूप को निखारता है वहीं यह कई रोगों की अचूक दवा भी है. सुबह का स्वागत खुद को आईने में मुसकराते हुए देख कर करें. पूरा दिन खिलाखिला गुजरेगा. फिर हंसी पर किसी प्रकार का टैक्स तो लगता नहीं, इसलिए बेझिझक मुसकराहटों का आदानप्रदान करें. मशहूर डा. ली बर्क के अनुसार, हंसी शरीर के इलाज का प्राकृतिक व मान्य तरीका है.

गिनिए हंसी के फायदे

हंसी ह्यूमन सिस्टम को सक्रिय करती है. इस से प्राकृतिक किलर सैल्स में वृद्धि होती है जो वायरस से होने वाले रोगों और ट्यूमर सैल्स को नष्ट करते हैं. हंसी दिल की सब से अच्छी ऐक्सरसाइज है. यह टी सेल्स की संख्या में बढ़ोतरी करती है. इस से एंटीबौडी इम्यूनोग्लोब्यूलिन-ए की मात्रा बढ़ती है. यह सांस की नली में होने वाले इन्फैक्शन से बचाव करती है. हंसने से तनाव पैदा करने वाले हारमोंस का लेवल कम होता है. खुल कर हंसना चेहरे और गले की मांसपेशियों के लिए शानदार ऐक्सरसाइज है.

कैफीन को कहें बाय

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
COMMENT