जैसी आशा थी, उच्च शिक्षा संस्थानों में प्रवेश के लिए सरकार की खुराफाती सीयूईटी (सैंट्रल यूनिवर्सिटी एंट्रैस टैस्ट) में लगातार अफरातफरी और कुप्रबंध की शिकायतें मिल रही हैं और टैस्ट देने वालों को बारबार परीक्षाओं में बैठना पड़ रहा है जबकि अभी तो शुरुआत है. जल्दबाजी में शुरू की गई अंगूठा काटने की द्रोणाचार्य के षड्यंत्र जैसी जटिल परीक्षा का उद्देश्य एक तरफ कोचिंग व्यवस्था को एक नई जान देना है तो दूसरी तरफ मनचाहे क्षेत्रों में छात्रों के लिए उच्च केंद्रीय व चुनिंदा संस्थानों को ही प्रवेश के लिए खुला रखना है.

यूजीसी के चेयरमैन जगदीश कुमार ने माना कि परीक्षा केंद्रों पर प्रश्नपत्र समय पर तुरंत डाउनलोड नहीं हुए. कुछ केंद्रों ने प्रश्नपत्र पहले ही डाउनलोड़ कर लिए और उन्हें बाजार में बेच दिया गया. दोबारा परीक्षा ली जाएगी पर यह बताने पर कि पिछली परीक्षा क्यों नहीं दी जा सकी. कुछ जगह तो पिछली परीक्षा के दिन पर्यवेक्षक पहुंचे ही नहीं.

बात यह नहीं है कि इस बड़ी परीक्षा के प्रबंध में चूक क्यों रही, बात तो यह है कि 12वीं की बोर्ड की परीक्षा लेने के बाद यह परीक्षा लेने की आवश्यकता क्यों? यह क्यों थोपी गई है. इस से जो शिक्षा सत्र जुलाई में शुरू होना था, अभी सितंबर में उस में प्रवेश प्रक्रिया भी शुरू नहीं हो सकी. इस में नुकसान न तो मोदीशाह जोड़ी का होगा, न नीति आयोग का, न यूजीसी का. यूजीसी के चेयरमैन जगदीश कुमार कह रहे हैं कि सीयूईटी की परीक्षा में जानबूझ कर षड्यंत्र के तहत गड़बड़ी की गई. यह कैसे संभव है जब सर्वज्ञाता, सर्वज्ञानी, उच्चवर्गीय, योग्य, राष्ट्रप्रेमी लोगों ने दिव्य दृष्टि से इस परीक्षा की कल्पना की थी और इसे एक अतिरिक्त परीक्षा के रूप में लाखों छात्रों पर इस वर्ष और आने वाले हर वर्ष के लिए थोपा गया? इस परीक्षा प्रणाली के लिए न संसद में चर्चा की गई, न व्यापक विचार लिए गए. कृषि कानूनों, नोटबंदी और अग्निपथ योजनाओं की तरह इस का संदेश स्वयं ईश्वर ने, वेदों की तरह, ज्ञानियों को दिया और अब इस पर सवाल उठाने वाला हर कोई षड्यंत्रकारी, देशद्रोही हो गया.

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

सरिता डिजिटल

डिजिटल प्लान

USD4USD2
1 महीना (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

डिजिटल प्लान

USD48USD10
12 महीने (डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें

प्रिंट + डिजिटल प्लान

USD100USD79
12 महीने (24 प्रिंट मैगजीन+डिजिटल)
  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...