सौजन्या-सत्यकथा

बात 12 दिसंबर, 2020 की है. फिरोजाबाद जिले के गांव कुसियारी का रहने वाला बच्चू सिंह शर्मा अपने छोटे भाई के बुलावे पर पत्नी मीना देवी को वैद्यजी से दवा दिलाने टूंडला आया था.

दवा लेने के बाद वह गांव लौट रहा था, तभी उस की बाइक खराब हो गई. तब वह टूंडला के स्वरूप नगर में अपने छोटे भाई अमर सिंह शर्मा उर्फ समरवीर के घर रुक गया. कुसियारी में घर पर बच्चू सिंह के 3 बच्चे 16 वर्षीय बेटी शिवानी, 11 वर्षीय वरुण व 9 वर्षीय अरुण रह गए थे.

Tags:
COMMENT