सौजन्या- मनोहर कहानियां 

तनु ने भावनाओं में बह कर सुभाष से शादी तो कर ली, लेकिन जब साथ रहने की बात आई तो उस की भावनाओं पर मां की ममता भारी पड़ी. पिता थे नहीं, मां ने अभावों में खूनपसीना बहा कर उसे और उस के भाईबहन को पाला, पढ़ाया- लिखाया था. मां के त्याग तपस्या की सोच कर उस ने सुभाष के साथ रहने से मना कर दिया. परिणामस्वरूप...

Tags:
COMMENT