सौजन्या-सत्यकथा

हेमलता उर्फ हेमा अपने रिश्ते के देवर योगेश के साथ प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रही थी. साथसाथ तैयारी करते उन्हें प्रेम हो गया. उन के प्रेम रोग में हेमलता का पति दिनेश वर्मा बलि का ऐसा बकरा बना कि...

राजस्थान की राजधानी जयपुर के थाना फुलेरा के गांव हिरनोदा में दिनेश वर्मा पत्नी हेमलता उर्फ
हेमा एवं 2 बच्चों के साथ रहता था. बच्चों में बेटी की उम्र 5 साल और बेटे की उम्र 3 साल थी. दिनेश की शादी करीब 7 साल पहले हुई थी. दिनेश पढ़ालिखा था, मगर सरकारी नौकरी नहीं लगी तो परिवार का गुजारा करने के लिए दूसरे काम करने लगा था. वह रोज सुबह काम पर जाता और शाम को घर लौटता था. हेमलता पढ़ीलिखी थी. वह प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करती थी. उस के पड़ोस में रहने वाला रिश्ते का देवर योगेश वर्मा भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहा था.

Tags:
COMMENT