घर चाहे छोटा हो पर अपना हो, यह सब का सपना होता है. जाहिर है आप भी अपना खुद का घर/फ्लैट चाहते होंगे. सवाल यह है कि ऐसा हो कैसे? ऐसा हो सकता है. इसके लिए चाहिए होगा पैसा, वह भी हो जाएगा कुछ आसन से प्रयोगों के साथ.

गुजरे 30 दशकों में हमारे पर्सनल फाइनैंस को हैंडल करने के तरीके में काफी बदलाव हुए हैं, लेकिन फिर भी एक फ्लैट खरीदना हमारे लिए आज भी उतना ही अहम है जितना यह हमारे पेरेंट्स के लिए हुआ करता था.

एस्पिरेशन इंडेक्स स्टडी, जिसे इंडियन मिलेनियल्स के फाइनैंशियल टारगेट्स का सर्वे करने के लिए किया गया था, में 47 फीसदी जवाब देने वालों ने कहा कि वे अपने दूसरे सभी टारगेट्स से ज्यादा एक फ्लैट खरीदने के टारगेट को प्राथमिकता देते हैं. जबकि 61 फीसदी मिलेनियल्स इसे हासिल करने के लिए लोन लेने से भी पीछे हटने वाले नहीं हैं.

इस से यह पता चलता है कि यंग प्रोफेशनल्स के पास डाउनपेमेंट करने के लिए या घर के कर्ज की रेगुलर मासिक किस्त चुकाने के लिए पैसे नहीं हैं. इसलिए, अपनी जरूरतों और इच्छाओं को पूरा करने के बीच आने वाली पैसे के कमी को पूरा करने के लिए आप को कुछ स्मार्ट फाइनेंशियल मैनेजमेंट और इन्वेस्टमेंट टिप्स की मदद लेनी होगी.

अपनाएं फाइनेंशियल डिसिप्लिन

आप की कितनी इन्कम है, उस हिसाब से खर्च और बचत करें. फाइनेंशियल डिसिप्लिन आगे चल कर काफी फायदेमंद साबित हो सकता है, चाहें आप की इच्छा बड़ी हो या छोटी. इसके लिए एक बजट तैयार करें और उसी बजट के हिसाब से चलें. अपने खर्च पर नजर रख कर आप अपने बेकार के खर्च में कटौती कर सकते हैं. बेहतर परिणाम के लिए आप अपनी इन्कम और फाइनेंशियल देनदारी में कोई बदलाव होने पर अपने बजट में भी जरूर बदलाव करें.

साथ ही मिलेगी ये खास सौगात

  • 5000 से ज्यादा फैमिली और रोमांस की कहानियां
  • 2000 से ज्यादा क्राइम स्टोरीज
  • 300 से ज्यादा ऑडियो स्टोरीज
  • 50 से ज्यादा नई कहानियां हर महीने
  • एक्सेस ऑफ ई-मैगजीन
  • हेल्थ और ब्यूटी से जुड़ी सभी लेटेस्ट अपडेट
  • समाज और राजनीति से जुड़ी समसामयिक खबरें
Tags:
COMMENT