दालरोटी खा कर गुजरबसर करने वाला गरीब आदमी यदि सोचता है कि अमीर की थाली 36 किस्म के व्यंजन से सजी होती होगी तो उस का अनुमान गलत है. भारतीय अमीर के भोजन की थाली का पुश्तैनी अंदाज अब खत्म हो रहा है. अब वह विदेशी भोजन की थाली में झांक रहा है और उस का लुत्फ उठा रहा है. विदेशी खानपान और पहनावा उस का फैशन बन गया है. वह कमाता यहां है लेकिन रहनसहन में नकल विदेशों की करता है.

कोटक वैल्थ मैनेजमैंट ने हाल ही में एक सर्वेक्षण कराया है. सर्वेक्षण में भारतीय अमीरों के शौक और रहनसहन को शामिल किया गया. सर्वेक्षण में कहा गया है कि अमीरों के खर्च में तेजी से इजाफा हो रहा है और 2011-12 की तुलना में 2013-14 में उन के खर्च में 20 प्रतिशत का इजाफा हुआ है.

सर्वेक्षण के अनुसार, भारतीय अमीर सर्वाधिक चाइनीज और इटैलियन भोजन पसंद करते हैं. भारतीय भोजन सिर्फ 61 फीसदी लोग पसंद करते हैं जबकि चाइनीज 70 और इटैलियन 62 फीसदी लोगों की पसंद है. इस के अलावा उन्हें लेबनानी, जापानी और मैक्सिकन भोजन ज्यादा पसंद है. उन्हें खरीदारी और समुद्र किनारे, पहाड़ों पर घूमने व सफारी पर जाने का शौक है. खरीदारी में सब से अधिक ज्वैलरी पर खर्च करते हैं. इस के अतिरिक्त कपड़े, उपकरण पर भी अच्छा खर्च करते हैं. उन्हें महंगी घड़ी तथा शराब का नशा करने का जबरदस्त शौक है.

सर्वेक्षण में कहा गया है कि देश में नवधनाढ्य वर्ग भी तेजी से बढ़ रहा है. वर्ष 2011-12 में देश में 62 हजार नवधनाढ्य थे जिन की संख्या 2013-14 में बढ़ कर 1 लाख 17 हजार से अधिक पहुंच गई है. उन में 16 फीसदी वे लोग हैं जिन की आय 25 करोड़ रुपए से अधिक है.

आगे की कहानी पढ़ने के लिए सब्सक्राइब करें

डिजिटल

(1 साल)
USD10
सब्सक्राइब करें

डिजिटल + 24 प्रिंट मैगजीन

(1 साल)
USD79
सब्सक्राइब करें
और कहानियां पढ़ने के लिए क्लिक करें...