दो राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता अभिनेता मनोज बाजपेयी हाल ही में व्यावसायिक फिल्म‘‘सत्यमेव जयते’’ में जौन अब्राहम के साथ नजर आए, तो तमाम आलोचकों ने सवाल उठाया कि मनोज बाजपेयी जैसे समर्थ व प्रतिभावान अभिनेता को ‘सत्यमेव जयते’ जैसी फिल्म करने की क्या जरुरत पड़ी? मगर मनोज बाजपेयी का मानना है कि यह फिल्म सफल है और फिल्म का मकसद पूरा हुआ. वैसे वह यह भी दावा करते हैं कि उन्होंने दोस्ती निभाने के लिए यह फिल्म की.

COMMENT